आत्मनिर्भर बिहार

जी हाँ!! अब बिहार बनेगा आत्मनिर्भर। बीते कुछ दिनों में हमने अपने प्रवासी बिहारी भाइयों को रोजगार के कारण परेशान होते देखा है। लोगों को हजार किलोमीटर का सफर पैदल तय करना पड़ा। इस मुसीबत की घड़ी में हम सभी उनकी मदद करेंगे। हमें “आत्मनिर्भर बिहार” के तहत उनके जीविकोपार्जन हेतु कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम लाया है।

इसके अंतर्गत नए युवाओं को पशु पालन एवं मत्स्य पालन के क्षेत्र में कौशल विकास प्रशिक्षण दिया जाना है।इसयोजना में सारे चयनित लोगों को प्रशिक्षण के दौरान हमारे छात्रावास में रहकर पढ़ाई करनी होग। प्रशिक्षण समाप्ति के उपरांत “प्रमाण-पत्र” भी दिया जाएगा।

 

कार्यक्रम की विशेषताएं:
  1. पशु एवं मत्स्य चिकित्सकों(डॉक्टर) के द्वारा 5-दिवसीय प्रशिक्षण
  2. छात्रावास की सुविधा
  3. भोजन की सुविधा
  4. डॉक्टर द्वारा तैयार की गयी प्रशिक्षण पुस्तिका
  5. पशु पालन या मत्स्य पालन के जुड़े उद्योग को शुरू करने एवं चलाने की 1 साल तक दूरभाष सहयोग
  6. Whatsapp ग्रूप में पशु एवं मसत्य चिकित्सकों(डॉक्टर) से सीधी बात-चीत
योग्यता एवं दस्तावेज:
  1. आयु 18 से 40 वर्ष
  2. आधार कार्ड
पंजीकरण की प्रक्रिया:
  1. नीचे दिए गए नीचे दिए गए फ़ॉर्म को भरें, या
  2. नीचे दिए गए मोबाइल नम्बर से नामांकन, या
  3. कौशल विकास केंद्र पर आकर नामांकन
पंजीकरण हेतु कृपया नीचे दिए गए फ़ॉर्म को भरें या कॉल करें- 8709476192, 8709476181

हमारे whatsapp ग्रुप से जुडें : chat.whatsapp.com/I411HZgF3SH0jbmDX8heSS

हमारे फ़ेस्बुक पेज को देखें : fb.com/atmnirbharbihar

आपका स्थायी पता